#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

अनुज थापन की मौत पर उठे सवाल, सीबीआई जांच की मांग को लेकर परिवार पहुंचा हाई कोर्ट

15

सलमान खान के घर के बाहर गोलीबारी से संबंधित मामले में गिरफ्तारी के बाद पुलिस हिरासत में मारे गये अनुज थापन का परिवार उसकी मौत की जांच सीबीआई से कराने की मांग कर रहा है। इसके लिए उन्होंने बंबई उच्च न्यायालय का रुख किया है। पुलिस के दावे के मुताबिक थापन ने लॉक-अप में खुदकुशी की थी। वहीं, उसकी मां रीता देवी ने शुक्रवार को हाई कोर्ट में दायर अपनी याचिका में आरोप लगाया की उनके बेटे की हत्या हुई है। याचिका में थापन की मां ने उच्च न्यायालय से केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से उनके बेटे की मौत की जांच कराने की अपील  की है। दायर की गई याचिका में पुलिस पर आरोप लगाया गया है कि हिरासत में थापन पर शारीरिक हमला और उसे प्रताड़ित किया गया। इसमें उच्च न्यायालय से यह भी मांग की गई कि वह पुलिस को वे सभी सीसीटीवी फुटेज सौंपने का निर्देश दे जहां थापन को रखा गया था। साथ ही, याचिकाकर्ता ने 24 अप्रैल से 2 मई तक इस मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारियों के कॉल डेटा रिकॉर्ड (सीडीआर) को खंगाले जाने का अनुरोध किया है। वहीं, थापन के शरीर को नए सिरे से पोस्टमार्टम के लिए निर्देश देने की भी अपील गई है। सलमान के घर गैलेक्सी अपार्टमेंट के बाहर हुई गोलीबारी के बाद पुलिस ने चार लोगों – थापन, सोनू बिश्नोई, कथित शूटर सागर पाल और विक्की गुप्ता को गिरफ्तार किया था। वहीं, गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई और उसका भाई अनमोल बिश्नोई इस मामले में वांछित की सूची में रखा गया है।

पुलिस हिरासत में हुई थी थापन की मौत

गोलीबारी की घटना के लिए हथियार और गोलियों की आपूर्ति करने के आरोपी थापन को 26 अप्रैल को सोनू बिश्नोई के साथ पंजाब से गिरफ्तार किया गया था और 30 अप्रैल तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया था। इस दौरान पुलिस ने कार्रवाई करते हुए सभी पर महाराष्ट्र संगठित अपराध नियंत्रण अधिनियम (मकोका) के प्रावधान लगा दिए थे। 29 अप्रैल को पुलिस ने थापन सहित सभी चार आरोपियों को एक विशेष अदालत के सामने पेश किया, जिसने उन्हें 8 मई तक पुलिस हिरासत में भेज दिया। इसके बाद थापन को 1 मई को क्रॉफर्ड मार्केट में कमिश्नरेट परिसर में अपराध शाखा के लॉक-अप के शौचालय में मृत पाया गया था।