#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

अश्विन ने की बड़ी गलती, भारत को हुआ नुकसान, 5/0 के स्कोर से शुरू हुई इंग्लैंड की पहली पारी

6126
इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज के तीसरे मुकाबले में रविचंद्रन अश्विन ने एक बड़ी गलती की। राजकोट में मैच के दूसरे दिन शुक्रवार (16 फरवरी) को उनकी लापरवाही से इंग्लैंड को फायदा हुआ। इस कारण इंग्लिश टीम ने अपनी पहली पारी 5/0 के स्कोर से शुरू की। इसका मतलब यह हुआ कि उसे बिना किसी मेहनत के पांच रन मिल गए। अश्विन ने पहली पारी में 89 गेंद पर 37 रन बनाए। उन्होंने छह चौके लगाए। दरअसल, अश्विन अपनी पारी में पिच के बीच दौड़ते हुए पाए गए। अंपायर जोएल विल्सन ने इंग्लैंड को पांच रन तोहफे में दे दिया। यह घटना भारतीय पारी के 102वें ओवर में घटी। लेग स्पिनर रेहान अहमद ने अश्विन को एक फ्लाइटेड गेंद फेंकी, इसे उन्होंने ऑफ साइड की ओर धकेल दिया। अश्विन सिंगल लेने के लिए निकल पड़े, लेकिन नॉन-स्ट्राइकर ने उन्हें वापस भेज दिया।
पांच रन कैसे जुड़ेंगे?
जब यह वाकया हुआ तो अश्विन अंपायर से बात करने गए। दोनों के बीच काफी देर तक बहस हुई, लेकिन अंपायर फैसले पर टिके रहे। अंपायर ने पेनल्टी में पांच रन का इशारा किया। पांच रन भारत के कुल योग से काटे नहीं गए। यह इंग्लैंड के स्कोर में जोड़ा गया। पांच रन उसके किसी भी बल्लेबाज के व्यक्तिगत स्कोर में भी नहीं जुड़ा। यदि क्षेत्ररक्षण करने वाली टीम इंग्लैंड पर पांच रन का जुर्माना लगाया गया होता, तो इसे बल्लेबाजी टीम के स्कोर में जोड़ा जाता। यह अतिरिक्त के रूप में दर्ज होता। अश्विन सिर्फ इकलौते दोषी नहीं है। मैच के पहले दिन रवींद्र जड़ेजा को पिच के संरक्षित क्षेत्र में दौड़ने के कारण चेतावनी दी गई थी। जब उन्होंने दूसरी बार ऐसा किया तो अंपायर ने पहली और आखिरी चेतावनी दी थी। यह चेतावनी पहली पारी में पूरी भारतीय टीम के लिए थी। अश्विन ने जब मैच के दूसरे दिन ऐसा किया तो अंपायर ने इंग्लैंड को पांच रन तोहफे में दे दिया। पिच के बीच दौड़ना ‘अनफेयर प्ले’ के दायरे में आता है। यह एमसीसी कानून 41.14 में शामिल है। पिच के बीच से दौड़ना पिच को नुकसान पहुंचाने का प्रयास माना जाता है।  इस नियम का लक्ष्य पिच के एक खास क्षेत्र को बचाए रखना है।