#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

‘कप्तान के लिए बात से नहीं, काम से सम्मान जीतना अहम’, धोनी ने आईपीएल से पहले वफादारी को लेकर की बात

50

महेंद्र सिंह धोनी भारतीय क्रिकेट इतिहास के सबसे महान कप्तानों में एक हैं। टीम इंडिया को तीन आईसीसी ट्रॉफी जिताने वाले इस कप्तान ने आईपीएल में भी अपनी छाप छोड़ी है। उन्होंने चेन्नई सुपरकिंग्स को पांच बार चैंपियन बनाया है। धोनी की कप्तानी में हर कोई खेलना चाहता है। उन्होंने आईपीएल के आगामी सीजन से पहले कप्तानी को लेकर कई जरूरी बात कही है। धोनी का मानना है कि किसी कप्तान को अपनी बातों से नहीं बल्कि काम से सम्मान हासिल करना चाहिए। धोनी ने कहा, ”वफादारी का सम्मान से बहुत कुछ लेना-देना है। जब आप ड्रेसिंग रूम के बारे में बात करते हैं, तो सहयोगी स्टाफ या खिलाड़ी अगर आपका सम्मान नहीं करते हैं तब वफादारी हासिल करना मुश्किल है।” मुंबई में एक कार्यक्रम में धोनी ने कहा, ”यह असल में इस बारे में है कि आप क्या कर रहे हैं, न कि इस बारे में कि आप क्या बोल रहे हैं। आप वास्तव में कुछ भी नहीं बोल सकते हैं लेकिन आपका आचरण वह सम्मान अर्जित कर सकता है।” धोनी ने कहा कि एक कप्तान के प्रति सम्मान उसके शब्दों से नहीं बल्कि उसके कार्यों से होता है। उन्होंने कहा, ”मुझे हमेशा लगता था कि (एक कप्तान के रूप में) सम्मान अर्जित करना महत्वपूर्ण है क्योंकि यह कुर्सी या रैंक के साथ नहीं आता है। यह आपके आचरण के साथ आता है। कई बार लोग असुरक्षित होते हैं। कभी-कभी भले ही टीम आप पर विश्वास करती हो, तब भी आप पहले व्यक्ति होंगे जो खुद पर विश्वास नहीं करते होंगे।” चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान ने कहा, “संक्षेप में कहें तो सम्मान हासिल करने की कोशिश न करें बल्कि इसे अर्जित करें, क्योंकि यह बहुत स्वाभाविक है। एक बार जब आपमें वह निष्ठा आ जाएगी तो प्रदर्शन भी आपके साथ आएगा।” माही ने कहा कि इसके लिए पहला कदम ड्रेसिंग रूम में प्रत्येक खिलाड़ी की ताकत और कमजोरियों को समझना है।

IPL 2024 It is important for a captain to win respect through work not through words says CSK Captain MS Dhoni
‘व्यक्ति की ताकत और उसकी कमजोरी को समझना महत्वपूर्ण’
धोनी ने कहा, ”कुछ लोगों को दबाव पसंद है और कुछ लोगों को दबाव पसंद नहीं है। व्यक्ति की ताकत और उसकी कमजोरी को समझना महत्वपूर्ण है। एक बार जब आप ऐसा कर लेते हैं, तो आप किसी खिलाड़ी की कमजोरी पर काम करना शुरू कर देंगे, बिना उसे बताए कि यह उसकी कमजोरी है। यह एक खिलाड़ी को आत्मविश्वासी बनाए रखता है और खिलाड़ी को खुद पर संदेह करने से बचाता है।” माही ने कहा कि एक कप्तान के रूप में किसी को टीम से सर्वोत्तम परिणाम प्राप्त करने के लिए चीजों को सरल रखना होगा।