#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

करीब 30 अरब रुपये के जुर्माने को लेकर मुश्किल में डोनाल्ड ट्रंप, संपत्ति बेचने तक की आई नौबत

45

अमेरिका में कुछ ही महीनों में राष्ट्रपति चुनाव होना है। ऐसे में पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मुश्किलों में घिरते नजर आ रहे हैं। दरअसल, नागरिक धोखाधड़ी मामले में जुर्माना देने की तारीख नजदीक आती जा रही है और उनकी टीम इससे बचने का कोई विकल्प नहीं ढूंढ पा रही है। दरअसल, ट्रंप ने 45.4 करोड़ के नागरिक धोखाधड़ी के मामले में अदालत के फैसले के खिलाफ अपील की थी। न्यूयॉर्क की अदालत ने फरवरी में अदालत ने उन्हें 35.5 करोड़ डॉलर (भारतीय मुद्रा में करीब 29.46 अरब रुपये) का जुर्माना चुकाने का आदेश दिया था, जोकि अब बढ़कर 45.4 करोड़ डॉलर हो गया है। अदालत ने ट्रंप के साथ-साथ उनके बेटों को भी सजा सुनाई थी और उन पर भी जुर्माना लगाया है। मीडिया रिपोर्ट में कहा गया था कि इतने बड़े जुर्माने के कारण ट्रंप की वित्तीय स्थिति पर फर्क पड़ सकता है।
ट्रंप के पास चभ का विकल्प भी नहीं
एक रिपोर्ट में ट्रंप की स्थिति से अवगत लोगों के हवाले से बताया गया कि ट्रंप के सामने परेशानी बढ़ गई है। वह काफी चिंता में हैं क्योंकि जुर्माने की आधी राशि भी इकट्ठा नहीं कर सके हैं। ट्रंप की कानूनी टीम विभिन्न विकल्पों को तलाशने के लिए बिना रुके दिन-रात काम कर रही है। पहले ट्रंप को बीमा कंपनी चभ से थोड़ी बहुत उम्मीद थी, लेकिन अब यह भी धराशायी हो गई। दरअसल, चभ ने अपने वकीलों को सूचिया किया था कि यह विकल्प अब मौजूद नहीं है। ट्रंप अब अपनी संपत्तियों को बेचने की योजना बना रहे हैं। बताया जा रहा है कि उनकी टीम समर्थकों के पास पहुंच गई है और संपत्ति को जल्दी से बेचने की संभावना पर विचार किया है। रिपोर्ट में कहा गया कि जुर्माना चुकाने की तारीख नजदीक आ गई है। 25 मार्च तक ट्रंप को जुर्माना चुकाना है। इतने बड़े जुर्माने के कारण उनकी वित्तीय स्थिति के खराब होने की खबरें बाहर आने लगी हैं। इसकी वजह से पूर्व राष्ट्रपति चिंताओं से घिर गए हैं। रिपोर्ट के अनुसार, ट्रंप बंद कमरे में इस मामले को लेकर न्यूयॉर्क के अटॉर्नी जनरल लेटिटिया जेम्स और जज आर्थर एंगोरोन के प्रति निराशा जाहिर की है। उन्होंने इस फैसले को पूरी तरह से अवैध और गलत करार दिया है। डोनाल्ड ट्रंप ने सोशल मीडिया पर साझा किए पोस्ट में अमेरिका की न्याय व्यवस्था पर भी खतरा बताया था। डोनाल्ड ट्रंप ने सोशल मीडिया पोस्ट में लिखा था, ‘अमेरिका और न्यूयॉर्क की न्याय व्यवस्था खतरे में है और इस पर पक्षपाती और बंटवारे को बढ़ावा देने वाले जज और वकील हैं। ट्रंप ने अटॉर्नी जनरल टिश जेम्स पर खास तौर पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि टिश जेम्स उन्हें लंबे समय से फंसाने की कोशिशें कर रहे हैं। ट्रंप ने लिखा कि उन्होंने बुरे वक्त में न्यूयॉर्क शहर की मदद की थी, लेकिन अब मुझे ही यहां से बाहर निकाला जा रहा है।’ ट्रम्प अभियान के प्रवक्ता स्टीवन चेउंग ने मंगलवार को इन आरोपों को निराधार बताया था।