#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

जी20 समिट से पहले प्रधानमंत्री मोदी का कार्यक्रम काफी व्यस्त; जाकार्ता रवाना होने से पहले कही यह बात

230

जी20 शिखर सम्मेलन से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कार्यक्रम काफी व्यस्त रहने वाला है। वह आसियान-भारत शिखर सम्मेलन और पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए बुधवार शाम को जकार्ता के लिए रवाना होंगे। इससे पहले उन्होंने बुधवार को मंत्रिपरिषद की बैठक के साथ-साथ कैबिनेट बैठक की अध्यक्षता की। सूत्रों के मुताबिक, प्रधानमंत्री रात 8 बजे इंडोनेशिया के लिए विमान से उड़ान भरेंगे। उड़ान में लगभग 7 घंटे बिताएंगे और 7 सितंबर को भारतीय समयानुसार सुबह 3 बजे जकार्ता पहुंचेंगे। वह सुबह 7 बजे आसियान-भारत शिखर सम्मेलन स्थल के लिए रवाना होंगे। इसके बाद वह भारतीय समयानुसार सुबह 8.45 बजे पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे। सूत्रों की मानें तो बैठक के तुरंत बाद पीएम मोदी हवाई अड्डे के लिए प्रस्थान करेंगे और सुबह 11:45 बजे दिल्ली के लिए विमान से रवाना होंगे। उनके शाम 6:45 बजे के आसपास दिल्ली पहुंचने की उम्मीद है। 8 सितंबर को पीएम मोदी अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन सहित तीन देशों के साथ महत्वपूर्ण द्विपक्षीय बैठकें करेंगे। जी20 की बैठक 9 और 10 सितंबर को नई दिल्ली में होगी। इस बीच प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि वह इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता में 10 देशों के प्रभावशाली समूह ‘आसियान’ के नेताओं के साथ भारत की साझेदारी की भविष्य की रूपरेखा पर चर्चा करने को लेकर उत्सुक हैं। जकार्ता के लिए रवाना होने से पहले अपने बयान में ‘आसियान’ के साथ जुड़ाव को भारत की ‘एक्ट ईस्ट’ नीति का एक ‘महत्वपूर्ण स्तंभ’ करार दिया।

शिखर सम्मेलन की मेजबानी कर रहा इंडोनेशिया
इंडोनेशिया, ‘आसियान’ (दक्षिण पूर्व एशियाई देशों के संगठन) के वर्तमान अध्यक्ष के रूप में शिखर सम्मेलन की मेजबानी कर रहा है। आसियान को क्षेत्र में सबसे प्रभावशाली समूहों में से एक माना जाता है। भारत, अमेरिका, चीन, जापान और ऑस्ट्रेलिया सहित कई अन्य देश इसके संवाद भागीदार हैं। पिछले वर्ष बाली में जी-20 शिखर सम्मेलन के लिए इंडोनेशिया की अपनी यात्रा को याद करते हुए पीएम मोदी ने विश्वास जताया कि इस यात्रा से आसियान क्षेत्र के साथ भारत के संबंध और गहरे होंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *