#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

‘..तब तक राम मंदिर का निर्माण भी पूरा हो जाएगा’, प्राण प्रतिष्ठा समारोह के न्योते पर आया शरद पवार का बयान

91

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) प्रमुख शरद पवार को राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए न्योता भेजा गया है। हालांकि, इसे लेकर पवार ने एक चिट्ठी जारी की है, जिसमें उन्होंने 22 जनवरी को कार्यक्रम में न आने की बात कही है। राम मंदिर तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के प्रमुख चंपत राय को लिखे पत्र में पवार ने कहा है कि वह प्राण प्रतिष्ठा समारोह के बाद अयोध्या आएंगे और तब तक मंदिर का निर्माण भी पूरा हो जाएगा।
राम मंदिर दर्शन पर क्या बोले पवार?
पवार ने राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में भेजे गए न्योते के लिए शुक्रिया जताते हुए कहा, “मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम भारत ही नहीं, विश्वभर में फैले करोड़ों भक्तों की श्रद्धा और आस्था के प्रतीक हैं। अयोध्या के समारोह को लेकर राम भक्तों में उत्सुकता और आतुरता है और वे भारी संख्या में वहां पहुंच रहे हैं। उनके माध्यम से इस ऐतिहासिक समारोह का आनंद मुझ तक पहुंचेगा। उन्होंने कहा, “22 जनवरी के समारोह के समापन के पश्चात श्री राम लला के दर्शन सहजता और आराम के साथ लिए जा सकेंगे। मेरा अयोध्या आने का कार्यक्रम हैं, उस समय श्रद्धा के साथ श्री रामलला जी के दर्शन करूंगा। तब तक राम मंदिर का निर्माण भी पूर्ण हो चुका होगा। आपके स्नेहपूर्ण निमंत्रण के लिए मैं एक बार फिर हृदय से आभार व्यक्त करता हूं। समारोह की सफलता के लिए मेरी शुभकामनाएं स्वीकार करें।”