#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

पीएम मोदी की टिप्पणी को संजय राउत ने बताया निराशाजनक, बोले- हार की आशंका उन्हें हताश कर रही

55
थी। उन्होंने कहा था कि अगर कांग्रेस सत्ता में आती है तो वह  लोगों की संपत्ति को मुसलमानों में फिर से वितरित कर देगी। पीएम मोदी के इस बयान को शिवसेना (यूबीटी) नेता संजय राउत ने निराशाजनक बताया है। इस दौरान उन्होंने दावा किया कि प्रधानमंत्री को चुनाव हारने का डर है इसलिए वे ऐसी भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं। बता दें कि पीएम मोदी ने रविवार को रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि कांग्रेस की योजना लोगों की गाढ़ी कमाई और कीमती सामान घुसपैठियों और जिनके अधिक बच्चे हैं, उन्हें देने की है। उन्होंने आगे कहा, ये अर्बन नक्सल वाली सोच। मेरी माताओ और बहनों ये आपका मंगलसूत्र भी बचने नहीं देंगे। इस हद तक चले जाएंगे।
संजय राउत ने पीएम मोदी के बयान को बताया निराशाजनक
पीएम मोदी की इन टिप्पणियों पर संजय राउत ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा, “यह निराशाजनक है कि प्रधानमंत्री मोदी जैसे एक वरिष्ठ नेता ऐसी टिप्पणियां कर रहे हैं।” शिवसेना (यूबीटी) नेता ने आगे कहा, “उन्होंने मंगलसूत्र तक के बारे में बात की। इसका मतलब यह है कि वह पूरी तरह से हताश हो चुके हैं। वह यह चुनाव हारने जा रहे हैं।”  संजय राउत ने आगे कहा, “चुनाव में हार की आशंका पीएम मोदी को परेशान कर रही है। इसलिए वे ऐसी भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं। कुछ लोगों की बच्चे पैदा करने की संख्या किसी चुनाव प्रचार का मुद्दा कैसे हो सकती है?” उन्होंने सवाल किया कि प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले 10 वर्षों में अपनी सरकार के प्रदर्शन के बारे में एक बार भी चर्चा क्यों नहीं की? संजय राउत ने दावा किया कि पीएम मोदी ने सत्ता में लौटने पर भविष्य की अपनी योजनाओं का उल्लेख भी नहीं किया। बता दें कि पीएम मोदी की टिप्पणियों पर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने भी प्रतिक्रिया दी थी। उन्होंने प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि उनके पास वास्तविक मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए कई रणनीतियां है। इसी के साथ राहुल ने पीएम मोदी को बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी को लेकर भी घेरा।