#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

पुराने दिनों को याद कर भावुक हुईं स्मृति, बोलीं- पर्सनैलिटी नहीं मजबूरी में बनी तुलसी वीरानी

84

आज स्मृति ईरानी किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं। वे अभिनेत्री से बन चुकी हैं, लेकिन लोग आज भी उन्हें उनके निभाए किरदार ‘तुलसी वीरानी’ के नाम से पहचानते हैं। हाल ही में एक कार्यक्रम के दौरान वे अपने पुराने दिनों को याद करती नजर आईं। उन्होंने अपने शुरूआती दिनों के संघर्ष को मीडिया से साझा किया।
पर्सनैलिटी नहीं मजबूरी में बनीं तुलसी 
स्मृति ईरानी ने टेलीविजन इंडस्ट्री में एकता कपूर के हिट शो ‘क्योंकि सास भी कभी थी’ से डेब्यू किया था। उन दिनों को याद करते हुए स्मृति कहती हैं, ‘मुझे अच्छी तरह याद है मैं तब मैकडॉनल्ड्स 1800 रुपये प्रति माह कमा रही थी। उन्हीं दिनों मैं किसी काम से एकता कपूर के ऑफिस में गई थी। वहां एकता के ज्योतिष भी बैठे हुए थे। उन्होंने मुझे देखा और एकता से कहा कि इसके साथ काम करो, देखना एक दिन ये टेलीविजन इंडस्ट्री का बड़ा चेहरा बनेगी। एकता ने अपने ज्योतिष की बात मान ली और मुझे उन्होंने ‘तुलसी’ के किरदार के साइन कर लिया था।’ स्मृति ईरानी अपनी बात जारी रखते हुए कहती हैं, ‘मैं उन दिनों एक महीने का 1800 रुपये कमाती थी और ‘तुलसी’ का किरदार निभाने के लिए मुझे एक दिन के 1800 रुपये मिलने वाले थे। मुझे इससे ज्यादा क्या चाहिए था। मैं तब मैकडॉनल्ड्स में सफाईकर्मी की नौकरी कर रही थी।’ स्मृति ईरानी के लिए ‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’ वरदान साबित हुआ। इस सीरियल की वजह से वे घर-घर लोकप्रिय हो गईं। ‘तुलसी वीरानी’ के किरदार ने उनकी जिंदगी को बदल दिया।