#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

बिग बी के 4,999वें ट्वीट पर शुरू हुई सियासत, आपस में भिड़ी उद्धव की शिवसेना और बीजेपी

22

बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन के एक ट्वीट के बाद महाराष्ट्र की सियासत गरमा गई है। दरअसल, उन्होंने मुंबई की कोस्टल रोड़ की तारीफ में एक ट्वीट किया था। बिग बी का ट्वीट वायरल होते ही नेतागिरी भी शुरू हो गई। उद्धव ठाकरे के गुट वाली शिवसेना और बीजेपी के बीच इस सड़क के निर्माण का श्रेय लेने की होड़ मच गई है। नेताओं की बयानबाजी के पहले यह जान लेते हैं कि जिस ट्वीट से मामले की शुरूआत हुई उसमें ऐसा क्या लिखा था। अमिताभ बच्चन ने अपने 4,999वें ट्वीट में मुंबई कोस्टल रोड की तारीफ करते हुए लिखा कि जेवीपीडी, जुहू से मरीन ड्राइव का सफर करने में 30 मिनट लगे। उन्होंने इसे साफ सुथरी और बढ़िया सड़क करार दिया।
आदित्य ठाकरे ने कस दिया बीजेपी पर तंज 
बिग बी के इस ट्वीट पर बीजेपी समर्थकों ने अपनी प्रतिक्रियाएं देना शुरू किया। उन सभी का कहना है कि यह सड़क बीजेपी और महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम देवेंद्र फड़नवीस की कोशिशों से बन पाई है। वहीं, आदित्य ठाकरे ने बीजेपी को अपने निशाने पर ले लिया। उन्होंने कहा कि यह प्रोजेक्ट शिव सेना यूबीटी के अध्यक्ष उद्धव ठाकरे का है। आदित्य ठाकरे यहीं नहीं रुके। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि बीजेपी का इस प्रोजेक्ट से केवल इतना ही लेना-देना है कि उन्होंने पर्यावरण मंत्रालय से अनुमति देने में दो साल लगा दिए थे। शिव सेना यूबीटी और बीजेपी के अपने-अपने दावों के बीच हकीकत यह है कि इस सड़क का निर्माण बीएमसी ने कराया था। साल 2022 तक बीएमसी उद्धव ठाकरे की पार्टी शिवसेना के नियंत्रण में थी। इस प्रोजेक्ट का भूमि-पूजन भी उद्धव ठाकरे ने किया था। हालांकि, आचार संहिता लागू होने से पहले राज्य के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने इसका उद्घाटन कर दिया था।