#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

महाराष्ट्र में 20 अक्टूबर से खुलेंगे कॉलेज, दोनों डोज ले चुके विद्यार्थी ही अटेंड कर सकेंगे क्लास

597

मुंबई, राज्य के उच्च और तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत ने 20 अक्टूबर से राज्य के सभी गैर कृषि विश्वविद्यालय, डीम्ड विश्वविद्यालय से संबद्ध कॉलेज 50 फीसद क्षमता के साथ खोले जाने की घोषणा की है। हालांकि कक्षाओं में वे ही विद्यार्थी बैठ सकेंगे, जिन्हें कोविड-19 की दोनों वैक्सीन लग चुकी हैं। मुंबई में विद्यार्थियों को लोकल ट्रेन से यात्रा की अनुमति देने के लिए मुख्य सचिव को प्रस्ताव भेजा जाएगा। उधर, पुणे में सामंत की घोषणा से पहले ही 12 अक्टूबर से कॉलेज खोल दिए गए। प्रतिबंधित क्षेत्रों के विश्वविद्यालयों और संबंधित कॉलेजों को स्थानीय प्रशासनिक स्तर पर निर्णय लेने को कहा गया है।

बुधवार को मंत्रालय में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में मंत्री सामंत ने कहा कि जिन विद्यार्थियों को अभी टीके नहीं लगे हैं, उनके लिए विश्वविद्यालय संबंधित संस्थाओं के प्रमुखों और कॉलेज प्राचार्यों के साथ स्थानीय जिला प्रशासन विशेष मुहिम शुरू करेंगे। इस मुहिम में 18 साल से ज्यादा आयु के विद्यार्थियों के साथ टीचिंग, नॉन टीचिंग स्टाफ के टीकाकरण को वरीयता देने को कहा गया है।

गाइडलाइंस नहीं मानी, तो होगी कार्रवाई
मंत्री सामंत ने कहा कि सभी कॉलेज-यूनिवर्सिटीज को केंद्र और राज्य सरकार की समय-समय पर जारी गाइडलाइंस, एसओपी का पालन करना जरूरी होगा। जो विद्यार्थी प्रत्यक्ष रूप से कॉलेजों में उपस्थित नहीं हो सकेंगे, उन्हें ऑनलाइन सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। सामंत ने कहा कि अलग-अलग चरणों में छात्रावास शुरू करने को लेकर संचालक उच्च शिक्षा और तकनीकी समीक्षा कर आवश्यक कार्रवाई करें।

विद्यार्थियों को लोकल का इंतजार
मंत्री सामंत ने कॉलेज शुरू करने की घोषणा तो कर दी है, लेकिन लोकल ट्रेन से आने-जाने की अनुमति नहीं दी है। इस बारे में सामंत ने कहा कि लोकल ट्रेन से आने वाले विद्यार्थियों को यात्रा की अनुमति मिलना आवश्यक है, इसके लिए मुख्य सचिव को प्रस्ताव भेजा गया है।

सरकारी अनुमति को लेकर भ्रम की स्थिति
पुणे में मंत्री उदय सामंत की घोषणा से पहले ही कॉलेज खोल दिए गए हैं, लेकिन सरकारी अनुमति को लेकर भ्रम की स्थिति बनी हुई है। दरअसल, पुणे नगर निगम ने एक आदेश जारी किया था कि जिसने टीके की दोनों खुराक ले ली हैं, वे प्रत्यक्ष कक्षाएं शुरू कर सकते हैं, लेकिन सरकार का कोई आदेश न मिलने से प्रबंधन भ्रम में है। आज भी वैसी ही स्थिति बनी हुई है।महाराष्ट्र राज्य प्रधानाचार्य संघ के महासचिव सुधाकर जाधवर ने बताया कि हम राज्य के उच्च शिक्षा विभाग और सावित्रीबाई फुले पुणे विश्वविद्यालय से स्पष्ट निर्देशों की प्रतीक्षा कर रहे हैं, क्योंकि अधिकांश कॉलेज इससे संबद्ध हैं। उन्होंने कहा कि कोविड-19 रोधी टीके की दोनों खुराक लेने वाले छात्रों की संख्या कम है। पीएमसी के दायरे में कम से कम 450 कॉलेज आते हैं। इस बीच स्वायत्त संस्थान फर्ग्यूसन कॉलेज में मंगलवार को प्रत्यक्ष कक्षाएं शुरू हो गईं। कॉलेज के प्रधानाचार्य डॉ. रवींद्र सिंह परदेशी ने कहा, हमने नियमों का पालन करते हुए सीनियर कॉलेज विंग को प्रत्यक्ष कक्षाओं के लिए फिर से खोल दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *