#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दी एनसीसी विस्तार को मंजूरी, बनेगा दुनिया का सबसे बड़ा वर्दीधारी युवा संगठन

52

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) के विस्तार के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। प्रस्ताव को मंजूरी मिलने के बाद अब एनसीसी में 3,00,000 कैडेटों को शामिल किया जाएगा। रक्षा मंत्रालय ने कहा कि उम्मीद है कि इस विस्तार से देश भर के शैक्षणिक संस्थानों में एनसीसी की बढ़ती मांग को पूरा किया जा सकेगा। मंत्रालय ने एक बयान में कहा, “रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने तीन लाख कैडेट रिक्तियों के साथ राष्ट्रीय कैडेट कोर के विस्तार के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। 1948 में केवल 20,000 कैडेटों से, एनसीसी के पास अब 20 लाख कैडेटों की स्वीकृत संख्या होगी, जिससे यह दुनिया का सबसे बड़ा वर्दीधारी युवा संगठन बन जाएगा।” विस्तार योजना के तहत चार नए “ग्रुप हेडक्वाटर” की स्थापना की जाएगी और दो नई एनसीसी इकाइयों को शामिल किया जाएगा। मंत्रालय ने कहा, “राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के अनुसार एनसीसी को एक वैकल्पिक विषय के रूप में पेश किया जाना, आने वाले समय में देश के भावी लीडर्स के रूप में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने की दिशा में युवाओं की आकांक्षाओं को पूरा करने की दिशा में एक कदम होगा।” इसमें कहा गया है, “इस विस्तार से सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में रिक्तियों का आनुपातिक वितरण होगा और एनसीसी के इच्छुक संस्थानों की वेटिंग लिस्ट में कमी आएगी।” विस्तार योजना का एक महत्वपूर्ण पहलू यह भी है कि इसमें पूर्व सैनिकों को उनके कौशल और अनुभव का लाभ उठाने का मौका मिलेगा। योजना के तहत इन सैनिकों को एनसीसी प्रशिक्षकों के रूप में रोजगार देने का प्रस्ताव भी शामिल है। मंत्रालय ने कहा, “यह नेक पहल एनसीसी कैडेटों के लिए गुणवत्तापूर्ण प्रशिक्षण सुनिश्चित करेगी और रोजगार के अवसर पैदा करेगी। एनसीसी का लक्ष्य परिवर्तनकारी प्रभाव डालना और ऐसे माहौल को बढ़ावा देना है जहां युवा राष्ट्र निर्माण में सार्थक योगदान दें।”