#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

रोहित का कप्तानी करना तय, लेकिन कोहली के खेलने को लेकर कोई प्रतिबद्धता नहीं? जय शाह ने कही यह बात

5251

बीसीसीआई सचिव जय शाह ने बुधवार को कई बड़े एलान किए। उन्होंने सौराष्ट्र क्रिकेट स्टेडियम के नामकरण के मौके पर टी20 विश्व कप 2024 को लेकर कई बयान दिए। इनमें रोहित शर्मा का बतौर कप्तान टूर्नामेंट खेलना और राहुल द्रविड़ के कोच के तौर पर बने रहना शामिल है। हालांकि, विराट कोहली को लेकर अभी कुछ तय नहीं है। जय शाह ने विराट के टीम इंडिया को लेकर प्रतिबद्धता के सवाल पर कुछ खास जवाब नहीं दिया। उन्होंने कहा कि इसको लेकर विराट से बातचीत की जाएगी। दरअसल, विराट ने खुद को इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए खुद को अनुपलब्ध बताया था। विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के लिहाज से यह सीरीज बेहद महत्वपूर्ण है। हालांकि, कोहली के नहीं रहने से भारत की बल्लेबाजी पर असर पड़ा है। जय शाह ने कोहली को लेकर बयान देते हुए कहा- अगर कोई खिलाड़ी 15 वर्षों में पहली बार व्यक्तिगत अवकाश मांग रहा, तो यह उसका हक है। विराट ऐसे खिलाड़ी नहीं हैं जो बिना किसी वजह से छुट्टी मांगे। हमें अपने खिलाड़ियों का समर्थन करना होगा और उन पर भरोसा जताना होगा। हालांकि, जय शाह ने कोहली के टी20 विश्व कप खेलने को लेकर कोई सूचना नहीं दी। शाह ने कहा, ‘हम इस टूर्नामेंट में उनकी उपलब्धता को लेकर विराट से जरूर बात करेंगे’। वहीं, मोहम्मद शमी भी फिलहाल चोट से जूझ रहे हैं। उनकी वापसी कब होगी, इसको लेकर बीसीसीआई ने अभी तक कोई जानकारी नहीं दी है। शाह ने कहा कि शमी जब फिट होंगे तो जानकारी दी जाएगी। इससे पहले उन्होंने द्रविड़ को लेकर भी बड़ा बयान दिया था। शाह ने कहा था कि द्रविड़ ही टी20 विश्व कप खत्म होने तक टीम इंडिया के हेड कोच रहेंगे। वहीं, जय शाह ने बीसीसीआई के साथ केंद्रीय अनुबंध करने वाले खिलाड़ियों के लिए घरेलू स्तर पर रेड बॉल क्रिकेट अनिवार्य करने की भी बात कही है। उन्होंने कहा कि बीसीसीआई इस मामले में कोई भी बहाना बर्दाश्त नहीं करेगा। शाह ने कहा कि वह मुख्य चयनकर्ता को इस मामले में खुली छूट देने जा रहे हैं और अगर कोई खिलाड़ी फैसले को नहीं मानता है तो वह उस पर सख्त से सख्त कदम उठा सकते हैं। साथ ही आईपीएल खेलने के लिए भी रणजी ट्रॉफी में तीन या चार मैच खेलने पर भी फैसला लिया जा सकता है।

शाह ने केंद्रीय अनुबंधित खिलाड़ियों को मानना होगा फैसला

T20 WC 2024: Rohit captaincy decided, but no commitment regarding Virat Kohli playing? Jay Shah said this
शाह ने कहा- सभी को इस बारे में जानकारी दे दी गई। मैं सभी राज्य क्रिकेट संघों को पत्र भी लिखने जा रहा हूं। अगर आपके मुख्य चयनकर्ता, कोच और कप्तान चाहते हैं कि आप घरेलू स्तर पर रेड बॉल क्रिकेट खेलें तो आपको यह फैसला मानना होगा। हालांकि, यह नेशनल क्रिकेट एकेडमी की सलाह पर ही होगा। मान लीजिए अगर कोई खिलाड़ी व्हाइट बॉल क्रिकेट और रेड बॉल क्रिकेट को एकसाथ नहीं संभाल पा रहे तो हम उन पर कुछ जबरदस्ती का नहीं थोपेंगे। यह उन्हीं पर लागू होगा जो फिट हैं और युवा हैं। हम किसी तरह का बहाना नहीं झेलेंगे। यह केंद्रीय अनुबंधित खिलाड़ियों के लिए है। शाह ने कहा- सभी को खेलना होगा, नहीं तो मुख्य चयनकर्ता ने मुझे अपनी सलाह दी है। मैं उन्हें खुली छूट दूंगा कि वह अपना फैसला खुले तौर पर कर सकते हैं। बता दें कि यह ईशान किशन और बाकी खिलाड़ियों को लेकर आया है। ईशान केंद्रीय अनुबंधित खिलाड़ी हैं, लेकिन उन्होंने दक्षिण अफ्रीकी दौरे पर टेस्ट नहीं खेलने और खुद को आराम देने की इच्छा जताई थी। इसके बाद उन्हें टीम से रिलीज कर दिया गया था। हालांकि, इसके बाद वह गायब हो गए और न तो अफगानिस्तान सीरीज (टी20) और न ही इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज के लिए खुद को उपलब्ध बताया। वह न तो एनसीए में थे और न ही रणजी खेलते दिखाई पड़े थे। बाद में जानकारी आई थी कि वह बड़ौदा में हार्दिक पांड्या और क्रुणाल पांड्या के साथ अभ्यास कर रहे थे। ईशान रणजी न खेलकर सीधे आईपीएल की तैयारी में जुट गए थे। ऐसे में बीसीसीआई इससे नाराज था और उन्होंने नया नियम लागू किया।