#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

विराट के ‘धमाके’ पर सौरभ गांगुली ने तोड़ी चुप्पी, बोले बोर्ड इस मसले से निपट लेगा

560

कोलकाता
भारतीय क्रिकेट में इन दिनों बवाल मचा हुआ है। बुधवार को भारतीय कप्तान विराट कोहली ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में बीसीसीआई अध्यक्ष सौरभ गांगुली के बयान को ‘गलत’ बताया था। गुरुवार को गांगुली ने पहली बार इस मुद्दे पर अपनी राय रखी। गांगुली ने कहा कि बोर्ड इस मुद्दे से निपट लेगा।

कोहली ने भारतीय टीम के साउथ अफ्रीका दौरे पर रवाना होने से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस मे कहा था कि उन्हें कभी भी टी20 का कप्तान बने रहने के लिए नहीं कहा गया था। उन्होंने यह फैसला अपनी मर्जी से लिया था। कोहली का यह बयान गांगुली की उस बात से बिलकुल अलग था जिसमें उन्होंने कहा था कि बोर्ड ने कोहली से यह पद नहीं छोड़ने के लिए कहा था।गांगुली ने गुरुवार को स्थानीय मीडियाकर्मियों से बातचीत में कहा, ‘कोई बयान नहीं, कोई प्रेस कॉन्फ्रेंस नहीं, हम इसे सुलझा लेंगे। इसे बीसीसीआई पर छोड़ दें।’.
ऐसी चर्चाएं थीं कि बीसीसीआई ने मुख्य चयनकर्ता चेतन शर्मा से कहा है कि वह कोहली की धमाकेदार प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद मीडिया से बात करें लेकिन अंत में बोर्ड ने इस मुद्दे पर कोई और बयान जारी करने से इनकार कर दिया। बुधवार को कोहली की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद एडमिनिस्ट्रेशन के साथ उनके संबंधों को सतह पर ला दिया।कोहली ने बुधवार को कहा था, ‘मेरे उस फैसले (टी20 कप्तानी छोड़ने) को लेकर जो भी कहा जा रहा है, वह सही नहीं है।’ कोहली ने गांगुली के बयान को लेकर यह बात कही थी। कोहली ने कहा, ‘जब मैंने टी20 की कप्तानी छोड़ी, मैं सबसे पहले बीसीसीआई के पास गया और उन्हें अपने फैसले के बारे में बताया। मैंने अधिकारियों को अपना नजरिया बताया। मैंने उन्हें बताया कि आखिर मैं टी20 कप्तानी क्यों छोड़ना चाहता हूं। मेरी बात को बहुत अच्छे से समझा गया। इसका कोई विरोध नहीं हुआ, कोई झिझक नहीं थी और मुझे एक बार भी ऐसा नहीं कहा गया, ‘आप टी20 की कप्तानी मत छोड़ो।”

इससे पहले, सौरभ गांगुली ने पीटीआई को दिए एक इंटरव्यू में कहा था कि उन्होंने कोहली से बात की थी और उन्हें कहा था कि सिलेक्टर नहीं चाहते कि सफेद बॉल के फॉर्मेट में दो कप्तान हों। इससे बहुत ज्यादा लीडरशिप हो जाएगी। रोहित अब सीमित ओवरों के कप्तान हैं और टेस्ट मैच में भारतीय टीम के उपकप्तान हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *