#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

शुभेंदु ने ममता बनर्जी के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत, चार विधायकों के बदले आठ को जेल भेजने का मामला

900
पश्चिम बंगाल के नेता प्रतिपक्ष ने मुख्यमंत्री के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के खिलाफ राजनीतिक बदले को लेकर दी गई टिप्पणी के लिए शिकायत दर्ज कराई है। बता दें, हाल में ही ममता बनर्जी ने कहा था कि अगर टीएमसी के चार विधायकों को भी जेल हुई तो वह भाजपा के आठ विधायकों को हत्या के आरोप में जेल में डाल देंगी। राजनीतिक गलियों में हलचल है कि टीएमसी में इन दिनों ममता बनर्जी और उनके भतीजे अभिषेक के बीच कुछ खटपट है, जिसे टीएमसी नेता कुणाल घोष ने सिरे से नकार दिया है। घोष ने कहा कि पुराने और नए के बीच कोई झगड़ा नहीं है। ममता-अभिषेक एक टीम हैं। यह इनके बारे में नहीं है। पार्टी को दोनों की आवश्यकता है। टीएमसी का कोई भी कार्यक्रम अभिषेक के बिना नहीं हो सकता। घोष ने कहा कि कल ममता ने कहा कि वरिष्ठों को पर्याप्त सम्मान दिया जाना चाहिए। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि वरिष्ठ वर्षों तक पद पर बने रहें। वरिष्ठों को अपने कनिष्ठों का मार्गदर्शन करना चाहिए। बता दें, ममता बनर्जी ने अपने भतीजे के राष्ट्रीय महासचिव पद को भंग कर दिया था। बाद में नई समिति का गठन किया गया और उनकी दोबारा बहाली कराई गई। नेताजी इंडोर स्टेडियम में एक पार्टी कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बनर्जी ने एक दिन पहले भी भाजपा पर निशाना साधा था। बनर्जी ने गुरुवार को कहा था कि राजीव गांधी पर भाजपा बोफोर्स घोटाले का आरोप लगाती है। उनके पास सबूत भी नहीं है। वहीं, आपने विदेशों में इतने सौदे किए, जिस वजह से भारतीय कंपनी काशीपुर गन एंड शेल फैक्ट्री को कोई ऑर्डर नहीं मिलता। भाजपा साधु बनने का दिखावा करती है और सरकारी कंपनियों को बेचती जा रही है।

उपस्थिति दर्ज कराने के ममता के फैसले पर उन्हीं के मंत्री ने जताई नाराजगी
बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार से शुरू हुए विधानसभा के शीतकालीन सत्र में पार्टी विधायकों और मंत्रियों में अनुशासन बनाए रखने के लिए लाए नियम पर उनके ही मंत्री ने सवाल उठा दिए। मुख्यमंत्री के निर्देश पर उपस्थिति दर्ज करने के लिए एक रजिस्टर मंत्री शोभनदेव चट्टोपाध्याय और मुख्य सचेतक निर्मल घोष के कक्ष में रखा गया था। विधानसभा में जाने से पहले मंत्रियों को इस पर हस्ताक्षर करने को कहा गया है। हस्ताक्षर करते हुए इस नियम से नाखुश ममता बनर्जी के सबसे करीबी और प्रिय लोक निर्माण एवं शहरी विकास मंत्री फिरहाद हकीम ने इस पर सवाल उठाए। उन्होंंने कहा, वह इस फैसले से सहमत नहीं हैं। मंत्री फिरहाद हकीम ने कहा, ‘हम स्कूल में नहीं पढ़ते। पार्टी ने कहा, तो मैंने (हस्ताक्षर) कर दिया। लेकिन मैं इससे सहमत नहीं हूं। हम स्कूली बच्चे नहीं हैं कि हस्ताक्षर करना पड़े। इस पर तृणमूल कांग्रेस के विधायकों और मंत्रियों की मिली-जुली प्रतिक्रिया आ रही है। उल्लेखनीय है कि बृहस्पतिवार को पार्टी की रैली में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने चेतावनी दी थी। उन्होंने कहा था, मैं सारी खबरें रखूंगीं।