#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

‘हमास वादों से मुकर गया’, अमेरिकी विदेश मंत्री ने बताई गाजा में संघर्ष विराम के खत्म होने की वजह

64

अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने शनिवार को बताया कि इस्राइल-हमास का संघर्ष विराम हमास के कारण अब समाप्त हो गया है। उन्होंने आतंकी संगठन के अपने वादों से मुकरने का दावा भी किया है। दुबई एयरपोर्ट पर मीडिया से बात करते हुए ब्लिंकन ने कहा, ‘मैंने स्पष्ट किया है कि युद्ध विराम के बाद भी इस्राइल नागरिकों की सुरक्षा और मानवीय सहायता जारी रखे। हमने आज ही देखा कि इस्राइल कुछ हिस्सों से बाहर निकल चुका है। इससे साफ पता चलता है कि गाजा में नागरिक सुरक्षित स्थानों पर रह सकते हैं।’ उन्होंने आगे कहा कि युद्ध विराम खत्म होने का मतलब है कि हमास ने अपना वादा तोड़ दिया। ब्लिंकन ने कहा, ‘यह जानना भी महत्वपूर्ण है कि यह विराम खत्म क्यों हुआ? यह विराम हमास की वजह से खत्म हुआ। हमास ने जो वादा किया था, वह उससे मुकर गया। विराम खत्म होने से पहले ही हमास ने यरूशलम में हमला कर दिया, जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई, वहीं अमेरिकी नागरिक समेत कई अन्य घायल हो गए। विराम खत्म होने से पहले उन्होंने रॉकेट दागना शुरू कर दिया। जैसा कि मैंने कहा कि वह अपने वादे से मुकर गए।’
बंधकों की रिहाई एकमात्र लक्ष्य
ब्लिंकन ने क्षेत्र में शांति बरतने के लिए अमेरिका के समर्थन को दोहराया और बताया कि अमेरिका का लक्ष्य फिलहाल बंधकों को छुड़ाना है। उन्होंने कहा, ‘हम बंधकों को उनके घर पहुंचाने में हर संभव कोशिश करेंगे। हमारे पास सात दिन का विराम था, जिसमें लोग अपने घर पहुंचे और अपने परिवार वालों से मिले। हम स्पष्ट रूप से इस्राइल का समर्थन कर रहे हैं और हमारी कोशिश है कि सात अक्तूबर वाली घटना फिर से न दोहराई जाए। हम चाहते हैं कि सभी बंधक अपने-अपने घर पहुंचे।’ सात दिनों के विराम के बाद इस्राइल और हमास के बीच शुक्रवार को युद्ध फिर से शुरू हो गया। स्थानीय समयानुसार सुबह सात बजे संघर्ष विराम समाप्त होने के बाद इस्राइल ने गाजा में हमास के ठिकानों पर हमला किया। गुरुवार, 30 नवंबर को ब्लिंकन ने फलस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास से रामल्लाह में मुलाकात की थी।