#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

4 लाख से ज्यादा लोग वैक्सीन की दूसरी डोज का कर रहे इंतजार, नहीं मिल रही को-वैक्सीन: राजेश टोपे

603

कोरोना वायरस की दूसरी लहर में ऑक्सीजन की कमी की वजह से केंद्र और राज्य सरकारें कई बार आमने-सामने आ चुकी हैं। कुछ राज्यों को ऑक्सीजन की पर्याप्त मात्रा में सप्लाई आवंटित करने के लिए कोर्ट तक में सुनवाई चली है। दिल्ली से लेकर महाराष्ट्र तक की सरकारें ऑक्सीजन की सप्लाई बढ़ाने की अपील कर रही हैं। महाराष्ट्र सरकार ने भी शुक्रवार को केंद्र से अपील की है कि उनके राज्य के लिए रोजाना 1700 मैट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति की जाए। साथ ही सरकार ने यह भी कहा है कि अभी राज्य में चार लाख से ज्यादा ऐसे लोग हैं, जो वैक्सीन की दूसरी डोज के लिए इंतजार कर रहे हैं।
महाराष्ट्र के हेल्थ मिनिस्टर राजेश टोपे ने कहा, ”तकरीबन 4 लाख लोग जिनकी उम्र 45 या फिर उससे अधिक है, वे दूसरी डोज का इंतजार कर रहे हैं। को-वैक्सीन की कोई सप्लाई नहीं है और अगर हमें सप्लाई नहीं मिलती है तो फिर हमें 18-44 साल की उम्र वालों के लिए आवंटित की गई वैक्सीन को 45 साल से ज्यादा उम्र वालों के लिए ट्रांसफर करनी पड़ेगी।” उन्होंने आगे बताया कि हमें 1700 मैट्रिक टन ऑक्सीजन की जरूरत है। हमने केंद्र सरकार से इतनी ऑक्सीजन की मांग की है। वहीं, दो दिन पहले नौ लाख वैक्सीन मिली थी, जिसमें आठ लाख वैक्सीन लगाई जा चुकी है। हमें सरकार से बड़ी संख्या में वैक्सीन उपलब्ध करवाने की अपील की है।
‘तीन लाख रेमडेसिविर का कर रहे इम्पोर्ट’
महाराष्ट्र के हेल्थ मिनिस्टर राजेश टोपे ने बताया कि हमने डीसीजीआई की इजाजत मिलने के बाद हमने तीन लाख रेमडेसिविर इंजेक्शन का इम्पोर्ट शुरू कर दिया है। मालूम हो कि कोरोना वायरस से संक्रमित कई मरीजों के लिए रेमडेसिविर इंजेक्शन की जरूरत होती है। राजेश टोपे ने बताया कि हमें केंद्र सरकार से रेमडेसिविर इंजेक्शन की आवंटित संख्या नहीं मिल रही है। केंद्र की ओर से अमेरिका से 52 हजार इंजेक्शन मिले हैं। टोपे ने संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कहा, ”केन्द्र सरकार ने प्रत्येक राज्य के लिए रेमडेसिविर दवा की शीशियों का कोटा तय किया है। इसके बावजूद अधिकतर दवा कंपनियां महाराष्ट्र के लिए तय कोटे के मुताबिक उसे दवा की आपूर्ति नहीं करा रही हैं।”
राज्य में सामने आए कोरोना के 62,194 नए मामले
वहीं, महाराष्ट्र में गुरुवार को कोविड-19 के 62,194 नए मामले सामने आए जबकि 853 मरीजों की मौत हो गई। राज्य के स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि अब तक 73,515 मरीजों की जान चली गयी है जबकि संक्रमितों की कुल संख्या 49,42,736 हो गयी है। बुधवार की तुलना में बृहस्पतिवार को कोविड-19 के 4554 अधिक नए मामले सामने आये जबकि 67 कम मरीजों ने जान गंवाई। अधिकारी ने बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान 63,842 मरीजों को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गयी। अब तक 42,27,940 मरीज संक्रमण से उबर चुके हैं। राज्य में फिलहाल 6,39,075 मरीज उपचाराधीन हैं। उन्होंने बताया कि राज्य में फिलहाल संक्रमण से उबरने की दर 85.54 फीसद है जबकि मृत्यु दर 1.49 फीसद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *