#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

ऐश्वर्या राय बच्चन पर विवादित टिप्पणी कर फंसे राहुल गांधी, भाजपा का तंज- कितना नीचे गिरोगे

66

हाल ही में भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने उत्तर प्रदेश में एक जनसभा में मशहूर फिल्म अभिनेत्री ऐश्वर्या राय बच्चन के खिलाफ विवादित टिप्पणी कर दी थी। इसे लेकर राहुल गांधी को तीखी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है। अब भाजपा ने भी राहुल गांधी को निशाने पर ले लिया है। भाजपा ने आरोप लगाया है कि राहुल गांधी सफल महिलाओं के खिलाफ खतरनाक स्तर का जुनून रखते हैं। साथ ही भाजपा ने राहुल गांधी पर निचले स्तर की राजनीति करने का आरोप लगाया। भाजपा की कर्नाटक इकाई ने सोशल मीडिया पर साझा एक पोस्ट में लिखा कि ‘कांग्रेस के युवराज राहुल गांधी को अपने दम पर सफल होने वाली महिलाओं से अब खतरनाक स्तर के जुनूनी हो गए हैं। भारतीयों द्वारा लगातार नकारे जाने से राहुल गांधी निचले स्तर पर गिर गए हैं और भारत के गर्व ऐश्वर्या राय के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणियां कर रहे हैं।’ भाजपा ने आगे लिखा कि ‘चौथी पीढ़ी के वंशवादी राहुल गांधी के पास कोई उपलब्धि नहीं है, वे ऐश्वर्या राय बच्चन के खिलाफ टिप्पणी कर रहे हैं, जबकि ऐश्वर्या राय बच्चन ने राहुल गांधी के पूरे परिवार से ज्यादा भारत को गौरवान्वित किया है।’ कर्नाटक भाजपा ने सीएम सिद्धारमैया को भी निशाने पर लिया और उन्हें संबोधित करते हुए लिखा कि ‘आपके बॉस लगातार कन्नड़ के लोगों का अपमान कर रहे हैं, ऐसे में आप कन्नड़ लोगों के सम्मान के लिए क्या इस अपमान के खिलाफ कुछ बोलेंगे या फिर आप अपनी कुर्सी बचाने के लिए चुप रहेंगे?’ इस विवाद की शुरुआत राहुल गांधी के उस बयान से हुई, जिसमें राहुल गांधी ने राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के आयोजन पर भाजपा को घेरा था। राहुल गांधी ने आरोप लगाया था कि अयोध्या में राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा में फिल्म स्टार, अरबपति लोग शामिल हुए थे, जबकि पिछड़े वर्ग, दलितों और जनजातीय वर्ग को इस कार्यक्रम में नहीं बुलाया गया था, जबकि ये वर्ग देश की कुल जनसंख्या का 73 फीसदी हैं।