#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

धारावी की झुग्गी में रहने वाले उमेश कीलू 13वें प्रयास में बने लेफ्टिनेंट, 10*10 फुट के घर में रहते थे

52

जब कुछ कर गुजरने का जज्बा हो तो सफलता कदम चूमती है। मुंबई की झुग्गी बस्ती धारावी में पले-बढ़े उमेश कीलू आखिरकार अपने 13वें प्रयास में सेना के अफसर बन गए। कीलू शनिवार को चेन्नई में आफिसर्स ट्रेनिंग अकादमी (ओटीए) से अपना पाठ्यक्रम पूरा कर भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बन गए। वह धारावी झुग्गी बस्ती के पहले युवा हैं जो सेना में अधिकारी बने हैं। उमेश मूलतः आंध्र के हैं, लेकिन उनका जन्म और पालन-पोषण सायन कोलीवाड़ा झुग्गी बस्ती में हुआ। धारावी की झुग्गी बस्ती में उनका 10 गुणा 10 फुट का घर था। उनके पिता पेंटिंग करते थे, लेकिन 2013 में उन्हें लकवा मार गया। बाद में उनका निधन हो गया और परिवार की कमाई बंद हो गई। इस दौरान उमेश ने आईटी में विज्ञान स्नातक की डिग्री और कंप्यूटर विज्ञान में मास्टर डिग्री हासिल की। उन्होंने एनसीसी एयर विंग में भी काम किया और ‘सी’ प्रमाणपत्र हासिल किया।