#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

नालासोपारा में इनकाउंटर की आग नही बुझी तब तक मुंबई एटीएस की छापेमारी में घर से मिला “मौत” का सामान

8959

8 जिंदा देशी बम, गन पावडर और डेटोनेटर बरामद

अजहर शेख / नालासोपारा :- दिल दहला देनी वाली खौफनाक घटना से एक बार फिर नालासोपारा हिलती दिखाई दी,क्योकि मुंबई एटीएस की धाड़ से एक घर से भारी मात्रा में देशी बम मिलने से पालघर जिला ही महाराष्ट्र सहित अन्य राज्यो में हड़कंप मच गया है।

गौरतलब हो कि हाल में पालघर की लोकल ब्रांच ने एक हिस्ट्रीशीटर जोगेंद्र राणे को एनकाउंटर में मार गिरा था। हालाकिं,एनकाउंटर मामले में की आग बुझी नही तबतक मुम्बई एटीएस की टीम ने छापेमारी कर शहर में खलबली मच गयी।पालघर जिले के नालासोपारा स्थित मुंबई एटीएस ने पश्चिम क्षेत्र में एक घर से 8 देसी बम बरामद किए हैं।

यह घर वैभव राउत नाम के शख्स का है। बताया जाता है कि वैभव का संबंध सनातन संस्थान से है। हालांकि संस्थान ने इस बात का खंडन किया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार नालासोपारा पश्चिम के सोपारा गांव,भंडार अली स्थित सनातन संस्था से जुड़े पदाधिकारी वैभव राउत के घर पर एटीएस की छापेमारी हुई है।

वैभव राउत के घर से एटीएस सूत्रों के हवाले से मिली खबर के अनुसार 8 देसी बम मिले है,जबकि घर से थोड़ी ही दूरी पर मौजूद उनके एक दुकान में बम बनाने की सामग्री मिली है। बताया जा रहा है कि गन पावडर यानी कि सल्फर बड़ी मात्रा में दुकान के अंदर से बरामद किया गया,जबकि कुछ डेटोनेटर भी पाए गए है। फिलहाल जो गन पावडर मिला है उससे लगभग 2 दर्जन बम बनाये जा सकते है। वही काले बुर्के में ढंककर वैभव को निकाला गया। इसके पहले एक टेम्पो में जो विस्फोटक सामग्री मिली थी उसे चादर में लपेटकर टेम्पो में भरकर एटीएस ऑफिस ले जाया गया। सामग्री इतनी ज्यादा थी कि 2 अलग – अलग चादरों में सामग्री निकली गई,जिसमे एक चादर की सामग्री को टेम्पो में रखा गया तो दूसरे चादर की सामग्री को सूमो में भरा गया। उक्त छापेमारी लगभग 12 घंटे तक सर्च ऑपरेशन और पूछताछ के बाद एटीएस ने हिरासत लेकर मुम्बई रवाना हुई। इसके अलावा जिस दुकान में सर्च के दौरान विस्फोटक मिला वह साई दर्शन नामक इमारत में 4 नम्बर की दुकान थी,जोकि वैभव की थी। और उन्होंने कुछ दिन पहले बगल की 4 नम्बर दुकान चलाने वाले सख्स को पैकिंग करके कुछ सामान दिए कि इसे अपनी दुकान में रखे। इस दुकान में मेडिकल स्टोर था। वही एटीएस टीम पिछले कुछ दिनों से लगातार वैभव को ट्रैक कर रही थी। और गुरुवार शाम को रेड की गई तो उस वक़्त वैभव घर मे ही थे उन्हें हिरासत में लिया गया। और घर की तलाशी ली गयी। घटनास्थल पर डॉगस्कॉड और फोरेंसिक टीम भी उपस्थित होकर उक्त मामले की बड़ी बारकी से छानबीन शुरू की।  *हिंदुत्ववादी वैभव की गिरफ्तारी का मतलब मालेगाव पार्ट – 2* राज्य संघटक,हिन्दू जनजागृति समिति सुनील घनवट ने कहा कि वैभव राउत एक निर्बाध गुरुमाक्ता हैं और वह ‘हिंदू गोवंश रक्षा समिति’ नामक संगठन के माध्यम से काम कर रहे हैं। वे हिंदू जनजागृति समिति के गठबंधन द्वारा आयोजित हिंदुओं और हिंदू संगठनों की गतिविधियों में भाग लेते थे, हालांकि,पिछले कुछ महीनों से किसी भी गतिविधि में उनकी कोई भागीदारी नहीं थी। घनवट ने यह भी कहा है कि हिंदूवादी संघटनाओं के समर्थक को बिना कारण परेशान करना,झूठे मामलों में फ़साना यह कोई नई बात नहीं है। सनातन संस्था के कई निर्दोष साधकों की गिरफ्तारी का मामला मालेगाव के मामले जैसा साबित हो रहा है। इसी प्रकार नालासोपारा के सनातन संस्था में घटे मामले की ख़बरों को देखते हुए वैभव राउत की गिरफ्तारी मालेगाव पार्ट – 2 हो गया है। श्रीमान उन्हें यह भी संदेह कर रहे हैं कि वैभव राउत की गिरफ्तारी ‘मालेगांव भाग 2’ है।  *वही वैभव राउत के वकील संजीव पुनालेकर का कहना है कि* एटीएस ने बिना जानकारी के उन्हें गिरफ्तार किया है। पता नहीं महाराष्ट्र और देश में किस तरह के कानून का पालन किया जा रहा है। हम इस मामले में कानूनी एक्शन लेंगे।  *एटीएस के सरकारी वकील की माने* तो मुंबई एटीएस को 7 अगस्त को गुप्त जानकारी मिली है कि कुछ लोग मुंबई,पुणे, नालासोपारा और सतारा इत्यादि में आतंकवादी हमले करने वाले है। इसी बीच एटीएस की टीम छानबीन में जुट गयी। और  नालासोपारा में क्षेत्र में दुकानों जैसे परिसर में खोजी गई स्पष्ट जानकारी पर विचार कर रहे हैं।और 1 9 देसी बम और 2 गिलेटिन रॉड्स जब्त कर लिया है। और कुछ अन्य संदिग्ध लेख। इस घटने में कुल 22 लेख जब्त किए गए हैं। 3 आरोपी इस अदालत के समक्ष पेश किया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *