#BREAKING LIVE :
मुंबई हिट-एंड-रन का आरोपी दोस्त के मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया:एक्सीडेंट के बाद गर्लफ्रेंड के घर गया था; वहां से मां-बहनों ने रिजॉर्ट में छिपाया | गोवा के मनोहर पर्रिकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी पहली फ्लाइट, परंपरागत रूप से हुआ स्वागत | ‘भेड़िया’ फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म | शरद पवार ने महाराष्ट्र के गवर्नर पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने पार कर दी हर हद | जन आरोग्यम फाऊंडेशन द्वारा पत्रकारो के सम्मान का कार्यक्रम प्रशंसनीय : रामदास आठवले | अनुराधा और जुबेर अंजलि अरोड़ा के समन्वय के तहत जहांगीर आर्ट गैलरी में प्रदर्शन करते हैं | सतयुगी संस्कार अपनाने से बनेगा स्वर्णिम संसार : बीके शिवानी दीदी | ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित | पत्रकार को सम्मानित करने वाला गुजरात गौरव पुरस्कार दिनेश हॉल में आयोजित किया गया | *रजोरा एंटरटेनमेंट के साथ ईद मनाएं क्योंकि वे अजमेर की गली गाने के साथ मनोरंजन में अपनी शुरुआत करते हैं, जिसमें सारा खान और मृणाल जैन हैं |

‘स्टार नहीं एक्टर हूं!’- टाइगर श्रॉफ

513

फिल्म ‘हीरोपंती’ से सफलता की सीढ़ियां चढ़नेवाले अभिनेता जैकी श्रॉफ के बेटे टाइगर श्रॉफ न केवल एक बेहतरीन डांसर हैं, बल्कि वे एक्शन में भी अव्वल हैं। युवा पीढ़ी सहित बच्चों और महिला दर्शकों के बीच लोकप्रिय टाइगर श्रॉफ की फिल्म ‘हीरोपंती’ की सीक्वेल ‘हीरोपंती-२’ रिलीज हो चुकी है। पेश है, टाइगर श्रॉफ से पूजा सामंत की हुई बातचीत के प्रमुख अंश-

पिता जैकी श्रॉफ की फिल्म ‘हीरो’ और आपकी फिल्म ‘हीरोपंती’ के टाइटल से आपका कितना इमोशनल कनेक्शन है?
इस टायटल के साथ मैं बहुत ही भावुक हो जाता हूं। ‘हीरोपंती’ की कहानी दमदार थी, लेकिन मेरा ध्यान सबसे पहले टाइटल की ओर जाता है। इससे अच्छा और क्या संजोग हो सकता है कि पापा का करियर फिल्म ‘हीरो’ से और मेरा फिल्म ‘हीरोपंती’ से बना। मैं बहुत नर्वस हूं क्योंकि दो वर्षों के बाद मेरी फिल्म ‘हीरोपंती-२’ रिलीज हुई है।

नवाजुद्दीन सिद्दीकी के साथ काम करने का अनुभव कैसा रहा?
नवाज सर कितने कमाल के एक्टर हैं, यह उनके साथ काम करते हुए एहसास होता है। सेंसिटिव एक्टर कैसे  होता है, यह उन्हें देखकर पता चलता है। हर शॉट उनका अलग है, अलग एक्सपेरिमेंट करते हैं। पता ही नहीं चलता कि अभिनय में वे कब कौन से पैंतरे आजमाएंगे। उनके साथ काम करते हुए बहुत चौकन्ना रहना पड़ता है। उनके साथ एक फिल्म करने का मतलब है अभिनय की पाठशाला से सब कुछ सीखकर निकलना। नवाज सर के साथ काम करने में बड़े फायदे हैं। वैसे नवाज सर सेट पर बहुत गंभीर और हरदम अपने किरदार में रहते थे।

८ सालों में आप कितना फर्क और बदलाव महसूस करते हैं?
मेरे लिए यह कहना मुश्किल है कि मुझमें कितने बदलाव हुए हैं। खुद का अवलोकन करना आसान नहीं है। मेरे माता-पिता या मेकर्स बता सकते हैं कि मुझमें कितना ठहराव आया है।

स्टारडम को आप किस तरह लेते हैं?
मुझे स्टारडम मिला है, ऐसा फैंस  कहते हैं लेकिन मैं खुद को स्टार नहीं, एक्टर मानता हूं। स्टारडम एन्जॉय करना बड़ा आसान है, लेकिन स्टारडम बहुत बड़ी जिम्मेदारी लेकर आता है। मैं सोशल मीडिया पर आम पब्लिक के कमेंट तक पढ़ता हूं, जिससे बहुत कुछ सीखने को मिलता है। अपनी गलतियों को दूसरे यानी अपने फैंस ही दिखा सकते हैं। स्टारडम को गंभीरता से लेना जरूरी है।

साइबर क्राइम पर आधारित फिल्म ‘हीरोपंती-२’ को करने से पहले साइबर क्राइम के बारे में आप कितना जानते थे?
साइबर क्राइम के बारे में पिछले ४-५ वर्षों से बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक सभी जानने लगे हैं। ‘हीरोपंती-२’ की जब मैंने स्क्रिप्ट पढ़ी तो एहसास हुआ कि मेरा किरदार हैकर का है। इस किरदार को निभाने के लिए मैंने हैकर्स के बारे में पढ़ा। फिल्म के निर्देशक ने इस विषय की मुझे काफी जानकारी दी।

इस बार एक्शन में आपने क्या नया किया?
मैंने बहुत पहले मार्शल आर्ट्स सीखा था। फिल्मों में आने से पहले मैं एक्शन सीख चुका हूं। एक्शन सीन एस्थेटिक होने चाहिए, रिलेवेंट हो, ताकि फिल्म पुरानी भी हो तब भी एक्शन नया लगे। मुझे खून-खराबा वाला एक्शन पसंद नहीं है। एक्शन करने में अगर खून बहे और सभी लहूलुहान हो जाएं, ऐसा डरावना एक्शन करने का कोई मतलब नहीं है। यही वजह है कि मुझे जैकी चेन का फाइटिंग सीक्वेंस पसंद है।

फोर्ब्स मैगजीन के अनुसार आप सबसे युवा एक्टर हैं, जिनकी कमाई सर्वाधिक है?
इन बातों पर मैं ध्यान नहीं देता। मैं खुद को पब्लिक का एक्टर मानता हूं। मेरा ध्यान पारिश्रमिक पर नहीं जाता।

लोग कहते हैं, आपकी आवाज अपने पिता से मैच होती है?
मुझे फख्र है कि मैं उनसे कुछ हद तक मैच करता हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *